सारी रात गुज़र जाती है

सारी रात गुज़र जाती है इन्ही हिसाबों में…
उसे मोहब्बत थी…? नहीं थी…? है…? नहीं है…

Leave a Reply

Your email address will not be published.